भाजपा की आपसी कलह खुलकर आई सामने

0
93
BJP bhariya janta party

अक्सर घर के अंदर की कलेश बाहरी शत्रुओं को मौका देती है कि वे आकर घात कर सकें, ये सब हम इतिहास से भी सीख सकते हैं|

उत्तर प्रदेश के कासगंज में वर्तमान भाजपा जिलाध्यक्ष केपी सिंह सोलंकी तथा दिवंगत क्षेत्रीय मंत्री पूणेंद्र सोलंकी के समर्थक आपस मे कई दिनों से सोशल मीडिया के माध्यम से भिड़े हुए हैं लेकिन आश्चर्य की बात है कि जनपद में भाजपा के प्रदेश स्तर तक के वरिष्ठ भाजपा नेता पदों पर अशीन हैं लेकिन किसी ने भी सोशल मीडिया पर चल रहे विवाद पर हस्तक्षेप नहीं किया है या फिर ये समर्थक उन नेताओं के कब्जे से बाहर हैं| लेकिन कहीं न कहीं सोशल मीडिया पर चल रहे इस विवाद से पंचायत चुनाव पर भी बहुत बड़ा प्रभाव पड़ा था और पार्टी सत्त्ता में काबिज होते हुए भी मात्र 5 सीट पर सिमट गयीं ।

पार्टी के एक वरिष्ठ पदाधिकारी नाम न छापने की शर्त पर राष्ट्रहित को बताया कि कुछ नेता बसपा से आकर वर्तमान जिलाध्यक्ष के मुंह लगे हुए हैं जिनकी दलाली का ऑडियो भी कुछ नेताओं के पास हैं| उसमें कासगंज विधानसभा के भाजपाईयों में मतभेद पैदा करा दिए हैं उसी तरह कुछ भाजपाई पदाधिकारी पटियाली विधानसभा पर आपस मे भिड़े हुए हैं इन दोनों का कई बार थाने तक भी विवाद पहुँच चुका है लेकिन अब सोशल मीडिया के माध्यम से ये महसूस होने लगा है यदि इसी तरह से विवाद चलता रहा तो 2022 के चुनाव में भी भाजपा को नुकसान हो सकता है ।


अगर आप राष्ट्रहित की पत्रकारिता से सहमत हैं या कुछ बदलाव चाहते हैं तो कृपया फीडबैक फॉर्म अवश्य भरें |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here