‘भारत से ज्यादा सुखी पाकिस्तान’: विदेशी लड़की ने किया ध्रुव राठी का फैक्ट-चेक, मिल रही गाली और धमकी, परिवार भी प्रताड़ित

0
85
Karolina-Goswami-Dhruv-Rathee

ध्रुव राठी को जानते हैं आप?
हाँ जानते ही होंगे जो बैठ कर किसी भी मुद्दे पर ज्ञान देना चालू कर देता है भले ही उसे खुद ज्ञान हो या नहीं| ध्रुव राठी अपनी विडियोज़ में जो ज़हर फैलाता है उसके चलते आज कल फिर से चर्चाओं में है| और साथ ही में चर्चाओं में हैं विदेशी यूट्यूबर कैरोलिना गोस्वामी|

विदेशी यूट्यूबर कैरोलिना गोस्वामी जो कि अपने चैनल ‘इंडिया ईन डिटेल्स’ से जानी जाती हैं, आजकल काफी सुर्खियों में आ गई हैं| उन्हें आम आदमी पार्टी के समर्थित ब्लॉगर ध्रुव राठी की वीडियो जो कि वर्ल्ड हैप्पीनेस रिपोर्ट 2021 पर है, उसका सच बाहर लाना भारी पड़ा|

ध्रुव राठी अक्सर झूठी खबर फैलाने को लेकर जाने जाते हैं लेकिन इस बार जब कैरोलिना ने उनके वीडियो पर फैक्ट चेक कर उनका भांडा फोड़ा, तब राठी के प्रशंसकों ने कैरोलिना को परेशान करके रख दिया| जिसके बाद कैरोलिना गोस्वामी ने एक वीडियो जारी कर राठी और उनके समर्थकों पर उन्हें मानसिक रूप से प्रताड़ित करने और उनके फैक्ट चेकिंग वीडियो के लिए उन्हें गाली देने के आरोप लगाए हैं|

कैरोलिना ने अपने वीडियो में आप समर्थक ब्लॉगर ध्रुव राठी की भारत के खिलाफ गलत सूचना को उजागर किया जिसके बाद उन्होंने एक वीडियो जारी किया जिसमें उन्होंने राठी और उसके प्रशंसकों द्वारा उन्हें धमकियाँ और गालियाँ दिए जाने का आरोप लगाया|

दरअसल ध्रुव राठी ने अपनी समझ के हिसाब से वर्ल्ड हैप्पीनेस रिपोर्ट 2021 के आधार पर यह दावा किया कि पाकिस्तान भारत की तुलना में अधिक खुश रहा| साथ ही कई ऐसी बातें कहीं जो कि रिपोर्ट के तथ्यों से मेल नहीं खाती| इस वीडियो के बाद कैरोलिना के अनुसार ध्रुव ने रैंकिंग के कार्यप्रणाली कि खराब समझ प्रदर्शित की और गोस्वामी ने ध्रुव द्वारा इस्तेमाल किए गए तरीकों पर सवाल भी उठाया|

ध्रुव की वर्ल्ड हैप्पीनेस रिपोर्ट 2021 की वीडियो के बाद कैरोलिना ने उस पर फैक्ट चेक किया और साथ ही उन्होंने ध्रुव से अपनी गलती स्वीकार करके एक थैंक्यू वीडियो की आशा जताई| लेकिन थैंक्यू वीडियो तो दूर की बात रही उल्टा कैरोलिना को ही परेशानी का सामना करना पड़ गया| उनकी आखिर गलती ही क्या थी कि वह तथ्यों को सामने लाईं जिसके चलते उन्हें यह सब झेलना पड़ रहा है| कैरोलिना के साथ साथ उनके समर्थकों को भी बेवकूफ और ना जाने क्या-क्या बुलाया जा रहा है| यहाँ तक कि वीडियो के मुद्दे से हटकर यह बात पॉलिटिक्स तक खींच दी गई, कैरोलिना को मोदी का समर्थक कहा गया|

कैरोलिना द्वारा किया गया फैक्ट चेक :

ध्रुव राठी के अनुसार वर्ल्ड हैप्पीनेस रिपोर्ट के प्रत्येक देश को 6 कारकों के आधार पर रैंक करती है जबकि कैरोलिना का दावा है कि रिपोर्ट में स्पष्ट रूप से कहा गया है कि इन 6 कारकों के आधार पर देश अपनी खुशी के माप का निर्माण नहीं कर सकता है|

इसके अलावा राठी ने अपनी रिपोर्ट में पाकिस्तान के ज्यादा खुश रहने का दावा किया था लेकिन संयुक्त राष्ट्र के लिए विकास समाधान नेटवर्क द्वारा जारी की गई विश्व खुशहाली रिपोर्ट 2021 के अनुसार भारत 2021 की रैंकिंग में 139वे स्थान पर रहा जिसे पिछले साल 144वे स्थान पर रखा गया था|

ध्रुव ने अपनी वीडियो में यह दावा किया था कि सर्वेक्षणकर्ताओं ने ‘सामाजिक समर्थन’ के व्यक्तिगत के आधार पर देशों को रैंक करने के लिए ‘कैंटर लैडर’ पद्धति का उपयोग किया है जिसमें “रिश्तेदार, साथी मुश्किल समय में कितना काम आते हैं?” इसके आधार पर 0-10 के स्केल पर रैंक दी जाती है लेकिन रिपोर्ट के हिसाब से उन्होंने ‘सामाजिक समर्थन’ मानदंड पर व्यक्तियों का सर्वेक्षण करने के लिए ऐसी काेई भी पद्धति नियोजित नहीं है बल्कि इसके बजाय ‘बाइनरी डेटा’ के आधार पर रैंकिंग तय की जाती हैं। जिसका खुलासा कैरोलिना ने अपनी फैक्ट चेक वीडियो में किया| हालांकि गोस्वामी ने कैंटर लैडर और उन 6 कारकों के बारे में अपनी वीडियो में चर्चा कर उन्हें स्पष्ट रूप से समझाया भी है|

ऐसे ही ध्रुव ने भ्रष्टाचार की धारणा के मानदंड के मामले में बुल्गारिया को सबसे खराब देश बताया है लेकिन एक बार फिर यह गलत है कैरोलिना यह बात सामने लाई की 2021 रिपोर्ट के मुताबिक मानदंडों में सबसे खराब देश के रूप में स्थान क्रोएशिया को दिया गया है ना कि बुल्गारिया को|

कैरोलिना ने कहा कि वीडियो में अभी भी कई गलतियाँ हैं जिनकी उन्होंने बात नहीं की है| साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि लोगों को पता होना चाहिए कि उन्हें मिसइनफॉर्म किया जा रहा है या कोई गलत खबर दी जा रही है|

कैरोलिना के फैक्ट चेक पर ध्रुव राठी के समर्थकों ने अभद्र टिप्पणी की :

कैरोलिना गोस्वामी ने ध्रुव राठी की फैक्ट चेकिंग की और उस वीडियो में हो रहे झूठे दावों को उजागर किया जिसके चलते राठी के समर्थकों ने गोस्वामी की वीडियो पर अपमानजनक टिप्पणियाँ की, उन्हें तरह-तरह की बातें बोलकर परेशान कर के रख दिया|

जहाँ एक तरफ ध्रुव के समर्थक ने कैरोलिना पर वीडियो बनाने के लिए करोड़ों रुपए लेने का आरोप लगाकर ‘ध्रुव राठी जिंदाबाद’ का नारा लगाया वहीं दूसरी तरफ गोस्वामी को गोमूत्र तंज बता दिया गया, कट्टर मुस्लिमों द्वारा हिंदुओं को गोमूत्र पीने वाला पहचाना अपने आप में ही अपमान माना जाता है|  

ऐसी कई बातें बोलकर कैरोलिना को अपमानित किया गया| इस सबके बाद कैरोलिना ने अपनी परेशानी सबके सामने व्यक्त की|

           

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here