बिहार के सबसे अनुभवी मंत्री में सुमार, युवाओं के बीच रखते हैं अच्छी पकड़

0
10
mujaffar mla suresh kumar sharma

सुरेश कुमार शर्मा जो कि बिहार के नगर विकास एवं आवास मंत्री हैं, इन्होंने मुजफ्फरपुर में एक छोटे कारोबारी के रूप में अपना कार्य शुरू किया था और देखते ही देखते वे मुजफ्फरपुर के नामी व्यापारियों में शामिल हो गए, परंतु अब इस कार्य में उनका मन नहीं लग रहा था, वे समाज की सेवा करना चाहते थे क्योंकि वे वहाँ के लोगों की दशा देखकर काफी परेशान हो जाते थे और जनता के लिए बहुत कुछ करना चाहते थे। यही एक सबसे बड़ा कारण था कि उन्होंने भाजपा में सन 1980 में राजनीति में अपना पहला कदम रखा।

इसके बाद उन्होंने जिले के एक छोटे से नेता से लेकर प्रदेश उपाध्यक्ष तक का दायित्व बखूबी निभाया। पार्टी के महत्वपूर्ण पदों पर रहते हुए सुरेश शर्मा ने अपनी एक राष्ट्रीय स्तर तक की सकारात्मक पहचान बनाई। यही कारण था कि वे भाजपा पार्टी के बड़े नेताओं में चर्चा का विषय बन गए और वे इनकी व्यवहार कुशलता से काफी प्रभावित हुए।

मुजफ्फरपुर के हर बड़े कार्यक्रमों में पार्टी के बड़े नेता सुरेश शर्मा का हौसला बढ़ाने के लिए उपस्थित रहते। भारत के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी भी उनकी कार्यकुशलता को काफी ओएसन्द करते हैं। नरेन्द्र मोदी मुजफ्फरपुर के कई बड़े कार्यक्रमों में शामिल भी हुए हैं। इनकी कार्यकुशलता को देखते हुए इन्हें 2010 में विधानसभा चुनाव का टिकट मिला, परिणामस्वरूप जनता ने इन्हें भारी मतों से विजयी बनाया।

विधायक बनने के बाद इन्होंने सबसे पहले मुजफ्फरपुर की जर्जर सड़कों की मरम्मत और निर्माण का कार्य कराया। जिसके बाद इन्होंने कई ओवरब्रिजों का निर्माण और बिजली की व्यवस्था दुरुस्त करने पर विशेष ध्यान दिया।

सन 2015 में वे दोबारा मुजफ्फरपुर से विधायक बने और सन 2017 में उन्हें बिहार का नगर विकास एवं आवास मंत्री बनाया गया जिसके बाद से वे शहर के विकास के कार्यों में और भी उल्लास के साथ कार्य करने लगे।

Also Read: BIHAR ELECTION : इन बिंदुओं से समझिये बिहार चुनाव का पूरा खेल

उन्होंने शहर में नाली, नाले, सड़कें, फ्लाईओवर, ओवरब्रिज बनवाकर सफाई कार्यों पर भी विशेष ध्यान दिया, जिसके फलस्वरूप ही मुजफ्फरपुर बिहार की स्मार्टसिटी के रूप में उभरा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here