राम रहीम को पत्रकार हत्या मामले में उम्रकैद

0
223
ram raheem

17 जनवरी गुरुवार को पत्रकार रामचंद्र छत्रपति की हत्या के मामले में डेरा सच्चा सौदा प्रमुख गुरमीत राम रहीम को उम्रकैद तथा 50000 रुपये का जुर्माना भी लगाया गया है।
राम रहीम बलात्कार के मामले में पहले से ही 20 साल की कारावास की सज़ा काट रहा है। सज़ा को मद्देनजर रखते हुए हरियाणा की सुरक्षा बढ़ा दी गयी है। पंचकूला में एक विशेष अदालत ने बृहस्पतिवार को वीडियो के जरिए सज़ा का ऐलान किया।

अधिकारियों ने बताया कि पंचकूला, सिरसा, और हरियाणा के अन्य हिस्सों में कानून व्यवस्था बनाए रखने के लिए सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए हैं। सिरसा में डेरा सच्चा सौदा का मुख्यालय है। पंचकूला अदालत परिसर के बाहर सुरक्षा बढ़ा दी गई है। हरियाणा पुलिस ने अदालत जाने वाले मार्गों पर अवरोधक भी लगा दिए हैं। अदालत ने पत्रकार की हत्या मामले में सा सुनाए जाते समय राम रहीम और अन्य तीन लोगों को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए पेशी संबंधित हरियाणा सरकार की याचिका बुधवार को दायर कर ली थी और कहा था कि डेरा प्रमुख की आवाजाही के कारण कानून व्यवस्था कड़ी करने की स्थिति पैदा हो सकती है।

51 वर्षीय राम रहीम अपनी दो अनुयायियों के बलात्कार के मामले में रोहतक की सुनारिया जेल में 20 साल की कारावास की सज़ा काट रहा है। तीन अन्य दोषी कुलदीप सिंह, निर्मल सिंह और कृष्ण लाल अम्बाला जेल में बन्द हैं। 2002 के पत्रकार हत्या मामले में विशेष सीबीआई अदालत के न्यायाधीश जगदीप सिंह ने 11 जनवरी को राम रहीम और अन्य तीनों को दोषी ठहराया था। राम रहीम और अन्य तीनो को जब दोषी ठहराया गया तब भी वे वीडियो कांफ्रेंस के जरिये पेश हुए थे। तीनों को आईपीसी की धारा 302(हत्या) 120(साज़िश), के तहत दोषी ठहराया जा चुका है। पत्रकार के परिवार ने मृत्युदंड की मांग की है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here