The Wire की ‘पत्रकार’ आरफा का मुस्लिम एंगल, शाहरुख के बेटे की गिरफ्तारी को बताया धार्मिक खुन्नस

0
36
arfa-khanum-srk-son aryan khan
Image: Rashtrahit Media

फेमस बॉलीवुड एक्टर शाहरुख खान (Shahrukh Khan) के बेटे आर्यन खान (Aryan Khan Drug Case) को ड्रग्स की तस्करी और ड्रग्स लेने के मामले में पकड़े जाने को लेकर इंटरनेट पर लोगों के कई विचित्र और बेहूदा बयान भी सामने आए हैं.

ऐसा ही एक बेहूदा बयान ‘The Wire’ की कथित पत्रकार आरफ़ा ख़ानम शेरवानी (Arfa Khanum Sherwani) ने भी किया है. अपने ट्वीट में उन्होंने ड्रग्स जैसे गंभीर मामले को भी मज़हबी रंग दे दिया और शाहरुख के बेटे आर्यन खान को ही एक मासूम पीड़ित बताने की कोशिश की.

क्या है पूरा मामला?

पिछले सप्ताह से सुर्खियों में आया शाहरुख का बेटा आर्यन खान का एक रेव पार्टी में पकड़ा जाना और उसके बाद आर्यन पर चल रही कार्रवाई मीडिया में पूरे जोर-शोर से चल रही है. दरअसल 2 अक्टूबर, 2021 को नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (NCB) ने मुंबई में एक क्रूज़ शिप पर चल रही रेव पार्टी में छापा मारा था. इसमें बॉलीबुड किंग शाहरुख खान के बेटे आर्यन खान समेत एनसीबी ने मुनमुन धमेचा, अरबज़ मर्चेंट समेत पाँच अन्य चर्चित लोगों को गिरफ्तार किया था.

गंभीर आरोप में लिप्त है आर्यन

आर्यन खान पर IPC की धारा 8C, 20B, धारा 27 और 35 के तहत मामला दर्ज किया गया था. इसके बाद जब आर्यन खान को कोर्ट के सामने पेश किया गया तो कोर्ट ने उसे ज़मानत देने से भी इनकार कर दिया.

‘मुस्लिम सुपरस्टार शाहरुख़’ हैं निशाना  

इस पूरे मामले पर अब मीडिया का एक धड़ा आर्यन खान को पीड़ित दिखाने का भरपूर प्रयास कर रहा है और इस उसकी मज़हबी पहचान को भी एक प्रोपेगेंडा के तहत मासूमित में इस्तेमाल करना चाहता है. इसी सिलसिले में ‘द वायर’ की पत्रकार आरफा शेरवानी ने ट्वीट करते हुए लिखा: 

आर्यन खान के मामले का ड्रग्स से कोई लेना देना नहीं है. यह पूर्ण रूप से शाहरुख खान पर निशाना साधे जाने का मामला है. इस आज़ाद देश में आर्यन की बेल होना भी मुश्किल हो रहा है.”

आरफा ने आगे कहा कि शाहरुख खान इस समय के सबसे बड़े ‘मुस्लिम सुपरस्टार’  हैं, जिसके कारण ही उन्हें निशाना बनाया जा रहा है.

‘बायजूज़’ ने भी किया किनारा 

देशभर में इस मामले को लेकर लोगों द्वारा सोशल मीडिया पर खासा विरोध देखने को मिला है। बच्चों को ऑनलाइन पढ़ाई कराने वाली कंपनी ‘Byjus’ ने भी शाहरुख खान द्वारा अपनी कंपनी के लिए किए जाने वाले विज्ञापनों पर लगाम लगा दी है. 

बता दें कि शाहरुख खान एक लंबे समय से ‘बायजूज़’ के लिए ऐड किया करते थे. अब उन्हीं के बेटे के ड्रग्स के मामले में पकड़े जाने को लेकर ‘बायजूज़’ अपने उपभोग्ताओं को लेकर भी गंभीर प्रतीत हो रही है.

इसका एक कारण यह भी है कि ‘बायजूज़’ के अधिकतर उपभोक्ता छोटे बच्चे हैं और आर्यन पर लगे मामले की गंभीरता को दखते हुए कम्पनी कभी बच्चों पर अपने माध्यम से किसी प्रकार का नकारात्मक प्रभाव नहीं छोड़ना चाहेगी.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here